हम उन्हें याद नहीं करते !!!



उन्हें शिकायत के, हम उन्हें याद नहीं करते
चलो गर ये सच है तो हम फ़रियाद नहीं करते
.
उन्हें हमारी मोहब्बत पर,इतना यकीं है फिर भी
पूछे है हमसे,दिल पे अपने एतिकाद नहीं करते
.
आगाह थे हम के कत्ल होगा,दीदा-ऐ-हुस्न से
गुल-ऐ-आसिर हुए,ये तदबीर सैयाद नहीं करते
.
वो कहते है के कुछ अलग से हो अरसे से
मोहब्बत पे नहीं लिखते,कोई फसाद नहीं करते
.
पाक-ऐ-इश्क है और बेशुमार मोहब्बत भी
इबादत न करू,ऐसा तो नामुराद नहीं करते
.
उनके ख्यालो में,हम उलझे रहते है  ‘शादाब’
इसी मशरूफियत में, हम उन्हें याद नहीं करते
Advertisements

One thought on “हम उन्हें याद नहीं करते !!!

  1. kamaal hai aap boss.. 🙂

    उनके ख्यालो में,हम उलझे रहते है ’शादाब’
    इसी मशरूफियत में, हम उन्हें याद नहीं करते

    mast hai

Your feedback is very important for me ..please leave a comment !!!

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s